‘तांडव’ के शिवा शेखर जीशान अय्यूब का असल किरदार कैसा है?

‘तांडव’ के शिवा शेखर जीशान अय्यूब का असल किरदार कैसा है?

By Naseem Shah13 January, 2021 4 min read
‘तांडव’ के शिवा शेखर जीशान अय्यूब का असल किरदार कैसा है?

अमेजन प्राइम 15 जनवरी को पॉलिटिकल ड्रामा सीरीज तांडव  रिलीज होने वाली हैं। इस सीरीज में यूं तो सेफ अली खान, डिम्पल कपाड़िया, सुनील ग्रोवर, तिग्मांशु धूलिया जैसे बड़े कलाकार हैं। सीरीज के ट्रेलर में लेकिन भगत सिंह के विचारों से प्रेरित एक क्रांतिकारी नौजवान छात्र लीडर शिवा शेखर (मोहम्मद जीशान अय्यूब) के तेवर देखने लायक हैं। तांडव  का ट्रेलर देखने पर मालूम होता है कि सीरीज में शिवा शेखर नामक किरदार काफी अहमियत रखता है। शिवा शेखर का किरदार निभाने वाले जीशान अय्यूब क्या असल में भी भगत सिंह के विचारों से प्रेरित हैं?

जीशान अय्यूब का पारिवारिक जीवन

मोहम्मद जीशान अय्यूब का जन्म दिल्ली के ओखला गांव में 1983 में हुआ था। यह एक पढ़े लिखे परिवार का हिस्सा थे। इनके पिता खुद एक टीचर थे और चाचा जामिया यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर थे। उन्हीं चाचा के यहां वी.सी.आर पर ये फ़िल्म शराबी देखा करते थे। यह बचपन में सबसे पहले अमिताभ से ही प्रभावि हुए थे जिसके नतीज़े में इन्होंने शराबी फ़िल्म के सारे डॉयलाग याद कर मारे थे।

जीशान ने बचपन में कभी फ़िल्मों के बारे में नहीं सोचा था। वह बचपन से ही एक इंजीनियर बनना चाहते थे। इसीलिए उन्होंने विज्ञान के विषयों में अपनी पढ़ाई पूरी की थी। बारहवीं के बाद लेकिन किसी अच्छे कॉलेज में दाखिला ना मिल पाने के कारण इन्होंने दिल्ली यूनीवर्सिटी के करोड़ीमल कॉलेज में बी.एस.सी में दाखिला ले लिया। यहां एक दिन इन्होंने थिएटर की वर्कशॉप के बारे में पढ़ा और इसके बारे में अपने पिता से जानना चाहा। इनके पिता क्योंकि खुद भी एक थिएटर करते थे तो उन्होंने एक्टिंग की तरफ जाने से इन्हें कभी नहीं रोका।

जीशान कॉलेज स्तर पर तीन साल थिएटर करने के बाद अब एन.एस.ड़ी ड्रामा स्कूल जाने का मन बना चुके थे। पहली बार में इनका दाखिला नहीं हो पाया फिर अगले साल जाकर इनका दाखिला हुआ। वहीं से जीशान अपनी यात्रा की शुरूवात मानते हैं। वहीं इन्होंने एक्टिंग की बारीकियां सीखीं जिनके दम पर ही आज वो नये-नये किरदार निभा रहे हैं।

जीशान अय्यूब ने एक मराठी की एक थिएटर कलाकार रसिका अगासे से 2007 में शादी की थी। रसिका और जीशान की एक बेटी भी है जिसका नाम राही है। रसिका कुछ मराठी और हिन्दी के कामयाब नाटकों में अपना योगदान दे चुकी हैं। उनका ‘हारूस मारूस’ बहुत बार देखे जाने वाले नाटकों में से एक नाटक है। मुम्बई के पृथ्वी थिएटर में जिसका मंचन बहुत बार हो चुका है। रसिका मुम्बई में बींग एसोसिएशन के नाम से अपना एक थिएटर ग्रुप चलाती हैं। इसके अलावा वो रसिका कुछ दिन पहले ही आई फ़िल्म मेरे प्यारे प्राइमिनिस्टर  में भी दिखीं थीं। इसके अलावा भी रसिका कई फ़िल्में कर चुकी हैं।

‘तांडव’ में भगत सिंह से प्रभावित जीशान असल में किस से प्रभावित हैं?

जीशान अय्यूब की फ़िल्मों की अगर बात करें तो उनको लोगोंं ने सही से फ़िल्म रांझड़ा से पहचाना था। रांझड़ा के बाद उन्होंने कई बड़े स्टारों के साथ भी काम किया। कुछ पॉलिटिकल किरदार भी किए। उन्हीं में से एक फ़िल्म आर्टीकल 15 के दलित एक्टिविस्ट आजाद का किरदार भी है।

जीशान अय्यूब फ़िल्म में ही नही असल ज़िंदगी में भी एक पॉलीटिकल समझदारी रखते हैं। ‘लल्लन टॉप’ के साक्षात्कार में जब सौरव द्विवेदी ने उनसे सवाल पूंछा । ” जीशान अय्यूब की पॉलीटिक्स क्या है?”। इस सवाल का जवाब जीशान अय्यूब बहुत ही बेबाकी से देते हैं कि ‘मैं लेफ्ट की राजनीति से प्रभावित था। मेरी सोच है कि मैं अपने संविधान का सम्मान करता हूं। अपने आपको आर्टिस्ट कहकर मैं राजनीति से बच नहीं सकता। आर्ट की शुरूआत ही पॉलिटिक्स से होती है। मैं कला के क्षेत्र में ही इसलिए आया था कि अभिव्यक्ति की आजादी हो वरना तो एक अच्छा इंजीनियर हो सकता था।”

तांडव  में वो एक स्टूडेंट लीडर शिव शेखर का किरदार निभा रहे हैं। शिव शेखर जो स्टूडेंट होने के नाते अपने देश के लोगों से प्यार करता है। अपने देश से प्यार करता है। वह अपने देश में होने वाली राजनीति में बदलाव चाहता है। वह युवाओं को अपने विचारों से प्रेरित करता है। उनके अंदर आत्मविश्वास जगाता है।

तांडव  में उनके इस किरदार को देखकर ‘लल्लन टॉप’ को ही दिए उनके एक और साक्षात्कार की बात याद आती है। उनसे जब पूछा गया कि अपने ड्रामा स्कूल के दिनों के बारे में कुछ बताएं। अपने ड्रामा स्कूल के दिनों को याद करते हुए जीशान ने बताया कि ड्रामा स्कूल में उस ज़माने में रेगिंग का बहुत चलन था। एक लड़का एक दिन रेगिंग के डर से रात को केम्पस से चला गया और रात भर प्लेटफार्म पर सोया। इस बात से परेशान होकर जीशान ने रेगिंग बंद का बीड़ा उठाया। इसके लिए उनके ही कुछ साथी नाराज भी हुए। उन्हें बाईकॉट भी किया गया लेकिन वो अपनी बात पर अड़े रहे।

जीशान अय्यूब अपने इसी साक्षात्कार में बताते हैं कि वह एक्टर से भी पहले इस देश के नागरिक हैं। इस देश से उन्होंने बहुत कुछ पाया है। इस देश की स्कूलों से संस्थाओं से उन्होंने बहुत कुछ पाया है। वह कहते हैं कि एक आर्टिस्ट का समाज से गहरा रिश्ता होता है।

जीशान अय्यूब अपने फ़िल्म चुनाव करने को लेकर कहते हैं कि ऐसा नहीं कि वो कुछ खास ही तरह की फ़िल्में करना चाहते हैं। उन्होंने राज्यसभा के ‘गुफ्तगू’ प्रोग्राम में बताया कि जब वो मुम्बई गये तो उनके दोस्तों ने उन्हें समझाया कि हीरो के दोस्त का किरदार कभी मत करना वरना टाइप कास्ट होकर रह जाओगे। उन्होंने इस बात गलत साबित किया। उन्होंने शुरूवात की अपनी फ़िल्मों में हीरो के दोस्त का ही किरदार निभाया था। उन्होंने अपने किरदार को लेकिन एक ऐसा अलग अंदाज़ दिया कि एक कलाकार के तौर पर अपनी अलग पहचान बना ली।

Tags: #Amazon prime #Mohammad Zeeshan Ayyub #Tandav
Naseem Shah
Written by

Naseem Shah

Trending articles

‘Tandav’ And 10 Other Web Series We’re Looking Forward To

‘Tandav’ And 10 Other Web Series We’re Looking Forward To

In case your OTT watchlist is in need of reinforcements, here are some upcoming Indian original web series to look forward to. ‘Gullak’ Season 2 The Mishra family returns with new relatable and endearing tales from their day-to-day life. Director: Amrit Raj Gupta Writer: Nikhil Vijay Cast: Jameel Khan, Geetanjali Kulkarni, Vaibhav Raj Gupta, Harsh […]
By Neel Gudka 3 min read
What Did You Do This Pongal? We Watched Master

What Did You Do This Pongal? We Watched Master

And the day has arrived! After an arduous wait last year for its high profile release, Lokesh Kanakaraj’s Master has finally made its premiere in theatres this Pongal season. Fans who have been waiting patiently for over 10 months to see their favorite stars Thalapathy Vijay and Vijay Sethupathi lock horns for the first time […]
By Sharanya Sankar < 1 min read
Take It From Us &#8211; Watching Master In Theatres Is Something You Must Do For Yourself
Review

Take It From Us – Watching Master In Theatres Is Something You Must Do For Yourself

John Durairaj aka JD (Vijay) is a college professor addicted to alcohol and is always in an inebriated condition. However, he is loved by everyone including Charu (Malavika Mohanan) for his antics and attitude. Bhavani (Vijay Sethupathi) is a local gangster and the leader of the lorry union, who uses juvenile students for his criminal […]
By Ajay Mudunuri 2 min read
See more articles
Privacy Note
By using www.bookmyshow.com(our website), you are fully accepting the Privacy Policy available at https://bookmyshow.com/privacy governing your access to Bookmyshow and provision of services by Bookmyshow to you. If you do not accept terms mentioned in the Privacy Policy, you must not share any of your personal information and immediately exit Bookmyshow.
List your Show
Got a show, event, activity or a great experience? Partner with us & get listed on BookMyShow
Contact today!
Copyright 2021 © Bigtree Entertainment Pvt. Ltd. All Rights Reserved.
The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with the respective owners. The usage of the content and images on this website is intended to promote the works and no endorsement of the artist shall be implied. Unauthorized use is prohibited and punishable by law.