“मर्द को दर्द नहीं होता” 21 मार्च को रिलीज हो रही है। पहले आपको बता दें कि आखिर यह मर्द है कौन जिसे दर्द नहीं हो रहा है। जिन लोगों को नब्बे के दशक की सुपर डुपर हिट फ़िल्म “मैने प्यार किया” की हीरोईन भाग्यश्री याद हो तो यह भी जान लीजिए यह ‘मर्द’ अभीमन्यू दसानी उन्ही का बेटा है।

यह उनकी डेब्यू फ़िल्म हैं जिसे वासन बाला ने बनाया है। फ़िल्म मामी (मुंबई फिल्म महोत्सव) में दिखाई जा चुकी है। इस फ़िल्म में अभीमन्यू को कंजैनिटल इनसेनसिटीविटी टू पेन की बिमारी होती है। क्या होता है इस बिमारी में वो फ़िल्म की कहानी के ज़रिये बतायेंगे।

इस मर्द को दर्द को क्यों नहीं होता?

यह फ़िल्म एक ऐसे बच्चे की कहानी है, जिसे पैदाइशी बिमारी है कि उसे दर्द नहीं होता। वह अपना हाथ काट लेता है, वह छत से कूद जाता है उसे दर्द नहीं होता क्योंकि उसे कंजैनिटल इनसेनसिटीविटी टू पेन नाम की एक बिमारी है जिसमें इंसान को कभी दर्द नहीं होता। इस बिमारी में लेकिन एक ही परेशानी है, पानी पीते रहना पड़ता है, पानी की कमी हुई तो आदमी बेहोश हो जाता है।

mard ko dard nahi hota

फ़िल्म की ख़ास बात क्या है?

फ़िल्म का ट्रेलर देखने से ही समझ में आ जाता है कि फ़िल्म कई सारी फ़िल्मों का मिला जुला संगम है। फ़िल्म कभी लगती है कि बॉॉलीवुड़ में चल रही है कभी हॉलीवुड जैसी लगती है। फ़िल्म की लव स्टोरी सामान्य बॉॉलीवुड़ जैसी नहीं दिखती है।

फ़िल्म को अलग लेवल पर बनाया गया है, जिसको समझना है वो समझो जिसको नहीं समझना है वो मजे लो। इस तरह का पहला काम है, जिसे देखने में सबको मजा आयेगा।

mard ko dard nahi hota

वासन बाला ने क्यों चुना ये सब्जेक्ट

वासन बाला ने इससे पहले भी जो काम किया है, वह सारा का सारा काम लीग से हटकर है। वह लंच बॉक्स, बॉम्बे वैलवेट, रमन राघव  जैसी फ़िल्मों में बतौर लेखक काम कर चुके हैं। उनकी किसी भी फ़िल्म को उठाकर देखा जाये तो सब्जेक्ट कुछ अलग ही होता है।

Mard ko dard nahi hota

फ़िल्म को देखकर कौन सी फ़िल्मों की याद आयेगी

इस फ़िल्म के कुछ सीन देखने के बाद आपको कोरियन फ़िल्मों की याद आयेगी। फ़िल्म के कुछ सीन देखने के बाद आपको हॉलीवुड़ की फ़िल्मों की याद आयेगी। फ़िल्म के कुछ सीन देखने के बाद आपको हिन्दी फ़िल्मों की याद आयेगी। फ़िल्म में लेकिन आप कहीं बोर नहीं होंगे।

mard ko dard nahi hota

‘मर्द को दर्द नहीं होता’ फ़िल्म  मामी में दिखाई जा चुकी है। इस फ़िल्म को देखने वालों ने काफी तारीफ भी की हैं। फ़िल्म दुनिया भर के फेस्टीवल घूमकर 21 मार्च को आपके शहर आ रही है, फ़िल्म के दिल खोलकर स्वागत कीजिए। अब तक अगर टिकिट नहीं कराया है तो करा लीजिए।।