फ़िल्में हर हफ्ते रिलीज होती हैं। हर हफ्ते ही सिनेमाघरों से उतरती भी हैं। अच्छी फ़िल्में सिनेमाघरों में लगी रह जाती हैं। दिल्ली एन.सी.आर में रहने के बाद ये फ़िल्में अगर आप अभी तक नहीं देख पायें हैं तो सिनेमा घरों से उतरने से पहले देख सकते हैं।

‘सुपर 30’

यह बिहार के एक मैथेमटिशियन आनंद कुमार की बायोपिक है। जो 12 जुलाई को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। यह फ़िल्म 45 दिन गुजर जाने के बाद भी सिनेमाघरों में मौजूद है। फ़िल्म ने 23 अगस्त तक 148 करोड का कारोबार करने के बाद सुपर हिट केटेगरी में अपनी जगह बनाने में कामयाब रही है।

‘दा लॉइन किंग’

यह फ़िल्म जंगल के शेर राजा की कहानी है। हिन्दी दर्शकों के लिए जिसकी खास बात है कि शाहरूख़ खान और उनके बेटे आर्यन ख़ान ने इस फ़िल्म के किरदारों को हिन्दी आवाज दी है। फ़िल्म ने अपने रिलीज होने के 25 दिन बाद ही 150 करोड़ रूपये का कारोबार कर लिया था। इस फ़िल्म को दुनिया भर में कमाई करने वाली फ़िल्म माना गया है। 19 जुलाई को रिलीज हुई थी और अभी तक सिनेमाघरों में मौजूद है।

‘फास्ट एण्ड फ्यूरियस’

यह फ़िल्म में हिन्दी में 2 अगस्त को रिलीज हुई थी और अब तक सिनेमाघरों में मौजूद है। इस फ़िल्म ने इंडिया में 71 करोड़ का कारोबार किया है। फ़िल्म दुनिया भर में हिट साबित हुई है।

‘बटला हाऊस’

बटला हाऊस 2008 में दिल्ली में हुए एक एनकाऊंटर की कहानी है। जो 15 अगस्त को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। यह फ़िल्म अब तक 83.78 करोड का कारोबार करके सिनेमाघरों में मौजूद है। फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट केटेगरी में शामिल है।

‘मिशन मंगल’

यह फ़िल्म भारतीय वैज्ञानिकों की मंगल तक पहुंच जाने तक की जीत की कहानी है। फ़िल्म 15 अगस्त को रिलीज हुई थी। इस फ़िल्म के साथ और बहुत सी बड़ी फ़िल्में रिलीज हुई थीं। इसके बाद भी फ़िल्म अब तक 164.61 करोड की कमाई करके सिनेमाघरों में मौजूद है। फ़िल्म सुपर हिट की केटेगरी में जगह बना चुकी है।