इस हफ्ते हिन्दी सहित कई भाषाओं में साहो रिलीज हो रही है। साहो के साथ कोई बड़ी फ़िल्म नहीं है। लेकिन हिन्दी पंजाबी की ये फ़िल्में उसके साथ-साथ सिनेमाघरों में नज़र आयेगीं। इन फ़िल्मों के बारे में जानने के लिए आप नीचे देख सकते हैं।

‘साहो’

साहो बॉलीवुड में बनने वाली मंहगी फ़िल्मों में से एक है। इस फ़िल्म का बज़ट ही 300 करोड रूपये से ज़्यादा बताया जा रहा है। इस फ़िल्म के बारे में बहुत सी खास बाते हैं। फ़िल्म में प्रभास ने सारे स्टंट खुद से किये हैं। उन्होंने बॉडी डबल का इस्तेमाल नहीं किया है। एक्शन सीन के लिए दुनिया के बेस्ट एक्शन निर्देशकों की सहायता ली गई है। फ़िल्म के एक 8 मिनिट के सीन पर 70 करोड रूपये खर्च  किये गयें। यह सब बातें दर्शकों के लिए और भी ज़्यादा उत्सुकता पैदा कर रही हैं।

फ़िल्म को देखने वालों के बीच अभी से हलचल है। सबसे बड़ी हिट फ़िल्म बाहुबली2 के बाद प्रभास साहों में नज़र आ रहे हैं। दर्शकों की उम्मीदें उनसे कुछ ज़्यादा ही हैं।


‘बेढ़ब’

संजय कपूर फ़िल्मों से जैसे गायब ही हो गये। वह इस फ़िल्म में फिर से नज़र आने वाले हैं। फ़िल्म की कहानी थोड़ा अजीब है। यह एक अमीर कम्पोजर की कहानी है जिसे उसकी प्रेमिका ठुकरा देती है। इसी बीच आधुनिक जमाने का यमराज उसके प्राण लेने आता है। अमीर प्रेमी अपनी प्रेमिका के लिए यमराज से एक डील करता है। वह डील क्या है फ़िल्म देखने पर ही पता  चलेगा।


‘अम्मा की बोली’

अम्मा की बोली कॉमेडी फ़िल्म है। फ़िल्म में बेस्ट कॉमेडियन हैं। संयय मिश्रा, जाकिर ख़ान, गोविंद नामदेव फ़िल्म में नज़र आने वाले हैं। फ़िल्म की कहानी एक बूढ़ी मां की कहानी है, जिसकी दौलत तो उसके बेटे अपने पास रखना चाहते हैं लेकिन उसे कोई नहीं रखना चाहता है।  फ़िल्म की कहानी एक स्कूटर और अम्मा के चारों और घूमती है।फ़िल्म स्टायर तो करती ही है साथ ही साथ भावुक भी कर देती है।


‘सुर्खी बिन्दी’

यह फ़िल्म पंजाबी भाषा में है। फ़िल्म की कहानी भी पंजाब के वक़्ती हालातों को दिखाती है। कहानी पंजाब की एक साधारण सी आम परिवार की लड़की रानों की है, जो ख़्वाब देखती है कि दूर देश कनाडा से कोई राज कुमार मंहगी कार से उतरेगा और उसे ले जायेगा लेकिन मुश्किल ये है कि उसमें ऐसी कोई खूबी नहीं है जो उसे कोई अमीर लड़का पसंद करे। वह एक मेकअप आर्टिस्ट है और इसी के जरिये अपना सपना पूरा करना चाहती है। मगर क्या उसका सपना पूरा हो पायेगा।