18 से कम उम्र वाले ना देखें
45%Overall Score
Reader Rating 0 Votes
0%

हिन्दी सिनेमा में दो तरह की भूतिया फ़िल्में बनी हैं। एक वो जो कुछ अच्छे निर्देशकों ने बड़े कलाकारों को लेकर बनायी हैं। जिसमें मनोज कुमार की वो कौन थी, आमिर खान की तलाश, गुमानाम, जानी दुश्मन, गोलमाल अगेन, भूतनाथ, भूत भी जिसमें से एक है। इन फ़िल्मों में एक इमोशन है। देखने वाला कहीं ना कहीं भूत से भी कनेक्ट हो जाता है।

हिन्दी सिनेमा में इसके अलावा भूतों को लेकर और भी फ़िल्में बनती रही हैं। जिन फ़िल्मों के भूत ड़राने की जगह हसाने के काम आते हैं। जिन फ़िल्मों में कहानी की जगह कुछ हॉट सीन के जरिये दर्शकों का ध्यान खींचने की कोशिश की जाती रही है। यह फार्मूला इतना कारगर साबित हुआ कि हिन्दी फ़िल्मों में एक नयी केटेगरी बन गई। जिसे बी ग्रेड और सी ग्रेड का नाम दिया गया।

दोनों ही तरह की फ़िल्मों का अपना ओडियंस है। किसी को सही या गलत नहीं ठहराया जा सकता। जो जिसके मन को भाये वो वही देखने जाये। रागिनी एम.एम.एस 2 Alt Balaji और ZEE5 पर ऐसी ही भूतों वाली सीरीज है। आप उसको किस केटेगेरी में रखते हैं वो देखने के बाद आप पर निर्भर करता है।

रिलीज डेट: December 18, 2019

कलाकार: वरुण सूद, सनी लियोन, दिव्या अग्रवाल, आद्या गुप्ता, स्नेहा नमनंदी, नवनीत कौर, ऋषिका नाग, आरती खेतरपाल, थिया डिसूजा

क्रिएटर: आल्ट बाला जी

कहानी में अगर आप कुछ नया देखना चाहते हो। कुछ ऐसा जो आजकल दुनिया भर की सीरीज और फ़िल्मों में देखने कों मिल रहा है। कुछ ऐसा जो आपने कभी सोचा ही नहीं हो, तो आपको निराशा होगी।

क्योंकि कहानी बिल्कुल भी नई नहीं है। मुम्बई में एक पुराना विला है। जिसकी बैक स्टोरी है कि उसमें एक अंग्रेज अपनी पत्नियों को मारकर उनके फोटो शूट किया करता था। इसी बंगले में एक दिन सनी लियोन भूतों का पता लगाने आती है और मारी जाती है। यानी सनी लियोन बस कुछ मिनिट तक ही सीरीज में आपका मनोरंजन कर पायेंगीं।

कहानी में सनी लियोन के 11 साल बाद एक लड़की अपनी कई सारी दोस्तों को बैचलर पार्टी देने के लिए इसी विला को चुनती है। इस विला में आने के बाद इन लडकियों के साथ कुछ ना कुछ अजीब होने लगता है। यह लडकियां डरपोक हैं लेकिन बाकी भूतिया फ़िल्मों की तरह विला छोड़कर नहीं जाती हैं।

इन्हीं में से एक दिन रागिनी नाम की लड़की ट्रूथ एण्ड डेयर खेलते हुए, विला की भूत लेड़ी विक्टोरिया को बुला लेती है। इसके बाद तो लेडी विक्टोरिया का भूत सबको परेशान करने लगता है। हालांकि दर्शकों को ड़रने की ज़रूरत नहीं है, क्योंकि भूत किसी को मारने से ज़्यादा सेक्स करने में इंटरेस्टिड है। डरावने सीनों की जगह बड़े लम्बें-लम्बें सेक्सी सीन आपको देखने को मिलेंगे। अंत में बड़ी आसानी से भूत को वापस भी भेज दिया जायेगा।

सिनेमाई नज़र से

रागिनी एम.एम.एस 2  में सबसे पहले गाने की बात करते हैं। ‘हैलो जी’ इस गाने को सनी लियोन पर फ़िल्माया गया है। आज जमाने के म्यूजिक के हिसाब से गाना तो सही है लेकिन गाने के बाद क्या? इस सीरीज का एक एपीसोड भी कोई सीरियस होकर देख सकता है अगर उसे कुछ हॉट सीन देखने की इच्छा ना हो तो।

निर्देशक का काम क्या था? इसी तरह का विला आल्ट बाला जी की सीरीज बू में था। इसी तरह की पेंटिंग्स का इस्तेमाल उसमें भी किया गया था। वही पुराने चोकीदार, बूढ़ी औरत, बंद कमरे वाले सीन, वही बार-बार देखे हुए सीन कुछ तो नया होता।

इसको लिखने के लिए क्या किसी लेखक की ज़रूत थी। अगर थी तो क्या उसने कोई कल्पना की, क्या उसे नहीं लगा कि उसके किरदार स्क्रीन पर ड़र नहीं रहे हैं। बल्कि वो सब कर रहे हैं जो ड़र में नहीं होता है। सारे किरदार जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं, उसी से पता चलता है कि उनके दिमाग में क्या चल रहा है। उस पर भी फैमनिज़्म पर ज्ञान दे रहे हैं।

इस सीरीज में जहां तक अदाकारी का सवाल है। इस सीरीज के सारे किरदार खुद भी जानते होंगे, उन्होंने एक्टिंग के नाम पर क्या किया है।

कोई क्यों देखे?

फ़िल्म राज़ का ऊटी वाला रोमांटिक पार्ट जिन्हें पसंद आया था। वो इस सीरीज को देख सकते हैं, क्योंकि उस से कई गुना ज़्यादा आपको इसमें देखने को मिलेगा।

वह लोग जो कुछ सीन देखने के लिए फ़िल्मों को आगे बढ़ा-बढ़ा कर देखते हैं। वह लोग इस सीरीज को नॉन स्टॉप देख सकते हैं।

नोट: कृप्या 18 साल से कम आयु वाले सीरीज से दूर रहे हैं।